top of page

अपनी आय डबल करने किसानों को अपनी ब्राड वेल्यू बढ़ाना जरूरीः डाॅ साने


किसी देश की जीवनरेखा किसान होता है। अगर यह क्षेत्र पिछड़ा है तो वे सब दावे खोखले है जो विकसित देश की परिकल्पना में पेश किये जा रहे हैं। वर्तमान समय में किसान फसल तो खूब उगा रहे हैं लेकिन परंपरागत बाजार व्यवस्था के चलते उन्हे सही दाम नहीं मिल पा रहा है। किसानों के मेहनत का बहुत बढ़ा हिस्सा बिचैलियों को चला जाता है, क्योंकि किसान ने अभी भी अपने उत्पाद को ब्राण्ड के रूप में पेश कर अपने दाम पर बिक्री प्रारंभ नहीं की है।


श्री विश्व समर्थ विलेज फाउंडेशन के एक लंबे आंतरिक शोध के बाद पता चला है कि वर्तमान में चलित किसान उत्पाद संगठनों में से आधे से अधिक किसान उत्पाद संगठन कागजों पर हैं,कई दम तोड़ चुके हैं। कुछ किसान संगठन जरूर सहकारीता के साथ जुड़कर अच्छा कर रहे हैं पर ये काफी नहीं है।


इन्ही सब कारणों को ध्यान में रख 'श्री विश्व समर्थ विलेज फाउंडेशन” के संस्थापक डाॅ अविनाश साने कहते है- अगर किसानों को अपनी आय दुगनी करनी है तो उन्हे कृषि क्षेत्र में अपने पैदा उत्पादों को नवाचारों के साथ बेचने के लिए भी अपनी ब्राण्ड वेल्यू बनाना पड़ेगा। किसान को अपने उत्पाद को एक अच्छा नाम देकर खुदरे बाजार में अपने मूल्य के साथ नियमानुसार उतारना होगा।


श्री साने बताते हैं - हम किसानों की आय वृद्वि को लेकर त्रि-स्तरीय विपणन व्यवस्था पर कार्य कर रहे है। इस किसान हितैशी व्यवस्था के तहत हम किसानों को संगठित कर उन्हे मार्गदर्शन प्रदान कर रहे है एवं बेचने की कला सिखाने के साथ उनके उत्पाद को बाजार की पहुंच तक लाने किंका बाजर नाम विपणन व्यवस्था से जोड़ रहे हैं।


क्या है किंका बाजार

किंका बाजार श्री विश्व समर्थ विलेज फाउंडेशन का एक उपक्रम है जो किसानों को सीधे बाजार उपलब्ध कराता है। श्री विश्व समर्थ विलेज फाउंडेशन की “स्वाभियान” परियोजना अंतर्गत चलित यह व्यवस्था किसानों एवं कारीगरों को बाजार तक सीधे पहुंच हेतु बनाई गई है।



किंका बाजार के कार्य

1 साल में एक बार बड़े शहरों में प्रदर्शनी का आयोजन करना

2 किंका बाजार पोर्टल - ऐप एवं अन्य संचार माध्यमों से किसानों के उत्पादों का उपभोक्ताओं तक सहीं तरीके से पहुंच हेतु कार्य करना

3 किंका बाजार आॅफ लाइन विपणन पद्वति से बड़े शहरों की काॅलानियों एवं हाटों में प्रत्यक्ष प्रदर्शन के साथ नियमानुसार गोदाम एवं डिलेवरी सिस्टम पर कार्य करना।

स्वाभियान परियोजना से किसान भाई ऐसे जुड़ें

किसानी को उद्यम का रूप देने अब किसानों को आगे आना चाहिए। इस कड़ी में वह स्वैच्छिक संगठनों के साथ जुड़कर इस दिशा में आगे बढ़ सकते हैं। श्री विश्व समर्थ विलेज फाउंडेशन सामाजिक उद्यमी बनाने की दिशा में सभी किसानों के साथ हमेंशा खड़ा है एवं रहेगा। अगर आप भी हमारी इस स्वाभियान परियोजना से जुड़ना चाहते हैं एवं हमारे कार्य को सहयोग देना चाहते हैं तो हमारे स्वाभियान के सदस्य बनें। स्वाभियान के सदस्य बनने पर हमारी कई सुविधाओं से आप नियमानुसार जुड़ते जाएंगे एवं आगे बढ़ते जाएंगे। स्वाभियान से जुड़कर अपने उत्पादों को बाजार का हिस्सा बनाने हमारी वेबसाइट www.shrivishwasamarthvillage.org पर जाकर अपना पंजीयन करें।

मुंबई में आयोजित किंका बाजार एक ग्रामायण प्रदर्शनी में शामिल होने एवं जानकारी पाने संपर्क कर सकते हैं।

Call- 7843013070,7222950463

52 views0 comments

Commentaires

Noté 0 étoile sur 5.
Pas encore de note

Ajouter une note
bottom of page